लश्कर-ऐ-तोइबा ने चुना नया मुखिया; मेजर गौरव आर्या ने शुरू की उलटी गिनती!!

अभी कुछ ही दिन पहले की बात है, जब पूरा विपक्ष और NDTV ने आतंकवादी और लश्कर-ऐ-तोएबा के मुखिया बुरहान वाणी के भारतीय सेना के साथ मुठभेड़ में मारे जाने के बाद उसके समर्थन में सड़को पर उत्तर आया था.

उस वक़्त मीडिया में बहुत सी खबरे आयी थी जो की यह दिखाना चाह रहे थे की कैसे उसके पिता एक गरीब ट्यूशन टीचर है और कैसे भारतीय सेना ने एक बेकसूर को मार है, जो की बस कश्मीर की आज़ादी के लिए खड़ा होता था.

यहाँ तक की बुरहान वाणी के समर्थन में पाकिस्तान में खुलेआम आतंक मैच रहे आतंकियों के सरदार हाफ़िज़ सैयद का भी समर्थन मिला हुआ था. और तो और पकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने UN में भी बुरहान वाणी के समर्थन में भारत को निचा दिखने की कोशिश भी की थी.

भारत के आम नागरिक, जो की इन सब से वाकिफ थे, और जो युवा पीढ़ी है, उन्होंने उसी वक़्त NDTV और ऐसे विपक्षी नेताओ को साफ़ साफ़ दिखा दिया की जो भी भारतीय सेना को खुल्ले आम ललकारेगा, भारतीय सेना पर हमले करेगा, उन सभी को भारतीय सेना उनकी असली जगह दिखा के रहेगी.

भारतीय सेना ने उस वक़्त भी यही कहा था की ऐसे चाहे जितने भी देश द्रोही और आतंकवादी आ जाए, वो एक एक को चुन चुन कर के उनके जन्नत की यात्रा पर भेजेगी.

अब एक बार फिर, लश्कर-ऐ-तोएबा ने अपना नया मुखिया चुना है. और हम बस यही कहेंगे की अब जुनैद मट्टू को अपनी ज़िन्दगी के आखरी दिन गिनने शुरू कर देना चाहिए. क्योंकि भारतीय सेना को ललकारने का इरादा रखने वाले या फिर देश का अहित करने वाले किसी भी व्यक्ति या संगठन, या फिर देश को भारतीय सेना उसकी असली जगह दिखा कर रहेगी.

इस पर आप अपनी राय निचे कमैंट्स में लिख सकते है.

Related Post

4 Comments

  1. Kashmir me jab tak dhara 377 khtm nahi hota aur algavvadi ko unki aukat batate huye desh se bahar nikala nahi jayega tab tak inke housle buland rahenge. Aatankwadi ke saath saath unki sahayata karne wale ko bhi mout ka rasta dikhana chahiye

  2. Kashmir Shirf Musalmano Ka Nahi Pure Desh Ki Janta Ka Hai. Jab tak Kasimir mein Kashmiri Panditon ko nahi basaya jata tab tak chain nahi milega. Jai Hind.

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*